broken, feelings, funny, Fusion, hindi, love quotes, Poem, Poetry, relations, Swag, thoughts, without you, words

हालत-ए-समा कुछ ऐसा है।

कहते कहते ! कैसे आज किसी कि बातें सुन्ने का,  मन्न कर रहा हैं, फिर से ।। ::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::: रोते रोते  ! आज अचानक क्यों मुसकुराने को, दिल कह रहा हैं, फिर से ।। ::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::: भुलाते भुलाते  ! क्यों किसी की यादों में, खौने लगा हूँ, फिर से ।। :::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::  सुन रहा हूँ ! हस रहा… Continue reading हालत-ए-समा कुछ ऐसा है।

hindi, Poetry, quotes, Swag, words, yuvispoetry

देखता हूँ अक्सर लोगों को ..👀

देखता हूँ अक्सर लोगों को .. 👀 अँधेरों में उजाले को ढूँढा करते हैं .. 🌄 कोई कह दो उन्हें, कि .. 😷 दिल को जला के देखिए एक दफा.. 🔥 अंधेरे को तड़प ना जाएँ तो.. 😎  सच्चा यह आशिक़ नहीं.. 😇 -yuvispoetry-